National Emblem of India in Hindi – भारत के राष्ट्रीय प्रतीक पर निबंध

हर एक राष्ट्र की अपनी एक अलग पहचान होती है, जिसे सर्वसम्मति से एवं सब के द्वारा स्वीकार किया जाता है। राष्ट्र की पहचान, राष्ट्र के प्रतीक एवं वहां के नागरिकों से होती है। देश के राष्ट्रीय प्रतीक का अपना एक इतिहास, व्यक्तित्व और विशिष्टता होती है, भारत के राष्ट्रीय प्रतीक देश का प्रतिबिंब है, जिसे बहुत सोच समझकर चुना गया है।

Information About National Emblem in Hindi

राष्ट्रीय प्रतीक साधारणत: सारनाथ के सम्राट अशोक के साम्राज्य से लिया गया है, जो अशोक के काल में अशोक द्वारा बनवाया गया था। इसे भारत के सारनाथ यानी उत्तर प्रदेश राज्य के थोड़े दूर वाराणसी के पास स्थापित किया गया है। राष्ट्रीय प्रतीक पर 4 शेर उभरते हुए दिखाई देते हैं, जो एशिया के इलाकों में पाए जाते हैं। जब हम इस प्रतीक को देखते हैं तो हमें केवल 3 शेर ही दिखाई देती है। क्योंकि चौथा शेर इनके पीछे की तरफ होती है। इसी कारण इसे चारों दिशाओं की सुरक्षात्मक मुद्रा कहा जाता है।

यह आकृति शक्ति, साहस, और जीत का प्रतीक है। इसके साथ ही इसमें नीचे की और एक हाथी, एक घोड़ा, एक बेल और एक शेर की आकृति भी बनी हुई है। इसके बीच में अशोक चक्र भी बनी हुई है। 26 जनवरी 1950 में जब देश का संविधान लागू हुआ था तब इसे देश का राजकीय प्रतीक के रूप में अपनाया गया था। इसे एक ही पत्थर पर नक्काशी करके बनाया गया है। इसके नीचे “सत्यमेव जयते” लिखा हुआ है। जिसे हिंदू वेद से लिया गया है। यह आज भी सारनाथ के संग्रहालय में सुरक्षित रखा गया है। इस आकृति के सुपर धर्म चक्र भी बना हुआ है।

National Symbols of India in Hindi

1) राष्ट्रीय प्रतीकों  कों अशोक के सारनाथ के स्तूप में से लिया गया है।

2) जिस दिन भारत 1 गणतंत्र राष्ट्र बना था, उसी दिन सरकार ने इस प्रतीक को अपनाया था , और वह दिन 1950 के 26 जनवरी थे।

3) इस प्रति के सिर्फ 3 सिंगही दिखाई देते हैं, चौथा हमेशा छिपा हुआ रहता है।

4) केंद्र में दिखाई देने वाले चक्र की दाएं तरफ बेल और बाई तरफ एक घोड़ा होता है।

5) राष्ट्रीय प्रतीक में दिखाए गए सिंह शक्ति, साहस, आत्म विश्वास और गर्भ को प्रदर्शित करते हैं।

6) हाथी को बुद्ध का अवतार माना जाता है, क्योंकि इनकी माता ने एक बार सपना देखा था की, एक सफेद हाथी उनके गर्भ में प्रवेश किया है।

7) बेल बुद्ध की राशि वृषभ का प्रतीक है। एवं घोड़ा उस घोड़े का प्रतीक है जिस पर बैठ कर वे जीवन का सार ढूंढने के लिए घर से निकल पड़े थे। और सिंह आत्मज्ञान की प्राप्ति का प्रतीक होती है।

8) सत्यमेव जयते शब्द अबेकस के नीचे देवनागरी लिपि में लिखा गया है। यह शब्द मुंड उपनिषद से लिए गए हैं, जिसका अर्थ होता है “सत्य की विजय होती है”।

9) सारनाथ के सिंह स्तंभ जैसी संरचना थाईलैंड में भी मिली थी।

10) इस राष्ट्रीय प्रतीक का प्रयोग से शासकीय प्रयोजनों में किया जाता है। क्योंकि इसमें सर्वोच्च सम्मान और निष्ठा निहित है।

11) सारनाथ के सिंह स्तंभ का प्रयोग विभिन्न सरकारी पत्रों पर किया जाता है। और यह भारतीय मुद्रा पर भी मुद्रित होता है।

12) अशोक चक्र भारतीय राष्ट्रीय झंडे का हिस्सा है।

National Emblem of India in Hindi

प्रतीक चिन्ह के अलावा भी भारतीय गणराज्य में और भी बहुत से अधिकारिक राष्ट्रीय प्रतीक होती है। जिनमें ऐतिहासिक डॉक्यूमेंट, ध्वज, राष्ट्रीय चिन्ह, भजन, यादगार इमारतें, और बहुत से देश भक्त भी शामिल है।

इन सभी प्रतीकों का भारतीय इतिहास में बहुत महत्व रहा है। भारत के ध्वज के डिजाइन को निर्वाचित एसेंबली ने आजादी के कुछ समय पहले 22 जुलाई 1947 को ही स्वीकृत किया था ! इसके अलावा भी भारत में दूसरे बहुत सारे और भी राष्ट्रीय प्रतीक होते हैं जिनमें राष्ट्रीय पशु, राष्ट्रीय पक्षी, राष्ट्रीय फूल, राष्ट्रीय फल, और राष्ट्रीय पेड़ भी शामिल है।

हम आशा करते हैं कि हमारे द्वारा लिखा गया National Emblem of India in Hindi को पढ़कर आप पसंद करेंगे। अगर आपको National Emblem of India in Hindi अच्छा लगा हो तो अपने सोशल मीडिया पर शेयर जरूर करें और कमेंट के माध्यम से हमें जरूर बताएं।

धन्यवाद

Also Read:

Essay on Nari Shakti in Hindi

Leave a Reply

Your email address will not be published.